April 15, 2024

दिल्ली के The Leela Palace का 23 लाख का बिल दिए बिना हुआ रफूचक्कर खुद को बताया रॉयल फैमिली से

दिल्ली पुलिस को ऐसे शख्स की तलाश है जिसने फाइव स्टार होटल द लीला पैलेस (The Leela Palace) के कर्मचारियों को 23 लाख रुपये का चूना लगाया है. उसने खुद को अबू धाबी के शाही परिवार का कर्मचारी बताया और 4 महीने तक यहां रुका. फिर अचानक ही होटल वालों को चकमा देकर रफूचक्कर हो गया.

दिल्ली पुलिस के सामने धोखाधड़ी का बेहद चौंकाने वाला मामला सामने आया है. यहां एक युवक ने फाइव स्टार होटल द लीला पैलेस (The Leela Palace) के कर्मचारियों को 23 लाख का चूना लगा दिया. दरअसल, उसने खुद को संयुक्त अरब अमीरात का निवासी और अबू धाबी के शाही परिवार का कर्मचारी बताया और 4 महीने तक यहां रुका. फिर अचानक ही होटल वालों को चकमा देकर रफूचक्कर हो गया.

होटल में उसका 23 लाख रुपये का बिल बकाया था. पुलिस ने आरोपी की पहचान मोहम्मद शरीफ के रूप में की है. आरोपी के खिलाफ जालसाजी और चोरी का मामला दर्ज किया गया है.

DCP साउथ वेस्ट के मुताबिक, आरोपी मोहम्मद शरीफ फरार है. उसकी तलाश के लिए पुलिस की कई टीमों का गठन किया गया है. उन्होंने कहा कि जल्द ही उसे गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

होटल वालों ने पुलिस को बताया कि शरीफ पिछले साल एक अगस्त से 20 नवंबर तक होटल लीला पैलेस में रुका था. फिर अचानक बिना किसी को बताए वहां से चला गया. उसने होटल के कमरे से चांदी के बर्तन और अन्य सामान भी चोरी किया. उस पर होटल का 23 लाख रुपये बकाया है.

11.5 लाख रुपये चुका दिए थे
होटल प्रबंधन के अनुसार, शरीफ ने होटल अधिकारियों को बताया कि वह संयुक्त अरब अमीरात में रहता है और अबू धाबी के शाही परिवार के सदस्य शेख फलाह बिन जायद अल नाहयान के ऑफिस में काम करता है. इसके बाद आरोपी 4 महीने तक होटल के कमरा नंबर 427 में रहा और 20 नवंबर 2022 को होटल से कीमती सामान के साथ भाग गया. उन्होंने बताया कि यूं तो उसका बिल 35 लाख के करीब बना था. लेकिन उसने 11.5 लाख रुपये होटल वालों को दे दिए थे. बाकी की रकम उसने नहीं चुकाई थी.

पुलिस ने कहा कि उसने एक फर्जी बिजनेस कार्ड, यूएई रेजिडेंट कार्ड और अन्य दस्तावेज होटल वालों के पास जमा करवाए थे. जिनकी अब जांच की जा रही है.

उत्तराखंड का शातिर ठग गिरफ्तार

हाल ही में ऐसा ही मिलता जुलता मामला उत्तराखंड से भी सामने आया था. आलीशान होटलों में ठहरकर महंगा खाना खाने और बिल दिए बिना फरार होने वाले शातिर ठग को मुनिकीरेती थाना पुलिस ने 18 दिसंबर 2022 को नोएडा से गिरफ्तार किया था. आरोपी तपोवन के एक होटल को 58,632 रुपये की चपत लगाने के बाद दो महीने से फरार चल रहा था. पुलिस पूछताछ में पता चला कि ठग पौड़ी गढ़वाल जिले के लक्ष्मणझूला थाना क्षेत्र स्थित एक अन्य होटल के साथ अन्य राज्यों के होटलों को भी चपत लगा चुका है.

ऋषिकेश कोतवाली क्षेत्र के विस्थापित क्षेत्र निर्मल ब्लॉक के बी-189 के दिनेश कुमार सिंह ने बीती चार अक्तूबर को आरोपी के खिलाफ पुलिस को तहरीर दी थी. शिकायतकर्ता ने बताया था कि तपोवन में उनका रूद्रम होटल है. 13 अगस्त को उनके होटल में दिल्ली के लक्ष्मीनगर के पांइव नगर के बी ब्लॉक, बी.169 के इंद्रनील भट्टाचार्य ने कमरा लिया. वह होटल से ही महंगा भोजन आर्डर करता था.

नोएडा से किया गया आरोपी गिरफ्तार
चार सितंबर को वह होटल के स्टाफ से बिल के भुगतान के लिए एटीएम से रुपये निकालने जाने की बात कहते हुए फरार हो गया. संपर्क करने पर उसका मोबाइल नंबर स्विच ऑफ था. पुलिस ने बताया कि मामला दर्ज करके जांच शुरू की गई. लगातार आरोपी की तलाश की जा रही थी. सूचना मिलने पर आरोपी इंद्रनील भट्टाचार्य को 18 दिसंबर 2022 के दिन उत्तर प्रदेश के नोएडा के सेक्टर-19 से गिरफ्तार कर लिया गया.

पूछताछ में सामने आया कि आरोपी पौड़ी गढ़वाल के लक्ष्मणझूला थाना क्षेत्र स्थित एक होटल के मालिक को भी 51,648 रुपये का चूना लगा चुका है. साथ ही यह बात भी सामने आई कि आरोपी इसी तरह देश के अन्य राज्यों में भी बड़े होटलों में रुकता और बिल के भुगतान के समय बहाना बनाकर फरार हो जाता था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *