April 15, 2024

Nepal Plane Crash : चीन की मदद से बना नेपाल का वो एयरपोर्ट, 14 दिन पहले हुआ था उद्घाटन लैंडिंग से 10 सेकंड पहले ही प्लेन क्रैश…

पोखरा एयरपोर्ट का निर्माण चीन की मदद से हुआ है. चीन एक्जिम बैंक ने इसके निर्माण के लिए नेपाल को लोन दिया था. इस एयरपोर्ट का उद्घाटन नेपाल के प्रधानमंत्री पुष्प कमल दहल प्रचंड ने एक जनवरी, 2023 को किया था.

Nepal Plane Crash

नेपाल के पोखरा में रविवार को यति एयरलाइंस का विमान क्रैश हो गया. इस विमान में 68 यात्रियों समेत कुल 72 लोग सवार थे. यति एयरलाइंस की ATR-72 फ्लाइट पोखरा एयरपोर्ट पहुंचने से 10 सेकेंड पहले ही ये हादसा हुआ है. नेपाल के पोखरा एयरपोर्ट का उद्घाटन 14 दिन पहले ही हुआ था.

पोखरा एयरपोर्ट का निर्माण चीन की मदद से हुआ है. चीन के एक्जिम बैंक ने इसके निर्माण के लिए नेपाल को लोन दिया था. इस एयरपोर्ट का उद्घाटन नेपाल के प्रधानमंत्री पुष्प कमल दहल प्रचंड ने एक जनवरी, 2023 को किया था. इसके अलावा एक और जानकारी मिली है कि जो विमान हादसे का शिकार हुआ है, उद्घाटन के दिन उसी विमान का डेमो फ्लाई किया गया था.

विमान को मिली थी ATC से लैंडिंग की परमिशन

पोखरा एयरपोर्ट अथॉरिटी की ओर से कहा गया है कि यति एयरलाइंस का विमान रनवे से महज 10 सेकेंड की दूरी पर था, तभी ये विमान क्रैश हो गया. ATC कर्मचारी के मुताबिक, पोखरा का रनवे पूर्व-पश्चिम दिशा की ओर बना हुआ है. विमान के पायलट ने पहले पूर्व के तरफ से लैंडिंग की परमिशन मांगी थी और परमिशन मिल गई थी,

लेकिन थोड़ी देर में पायलट ने पश्चिम के तरफ से लैंडिंग की परमिशन मांगी और दोबारा परमिशन दे दी गई. सिविल एविएशन अथॉरिटी का कहना है कि लैंडिंग से ठीक पहले विमान में आग की लपटें दिखाई दी थीं, इसलिए मौसम की खराबी के कारण दुर्घटना हुई, ये बात नहीं कही जा सकती.

कैबिनेट मीटिंग में 5 सदस्यीय कमेटी बनाने की घोषणा

नेपाल में कल सार्वजनिक अवकाश की घोषणा की गई है. कैबिनेट की बैठक में इसका फैसला लिया गया है. इसके अलावा इस विमान हादसे की जांच के लिए पांच सदस्यीय जांच कमेटी बनाने की घोषणा की गई है.

कैबिनेट बैठक

पुराने और नए पोखरा एयरपोर्ट के बीच हादसा

जानकारी के मुताबिक, यति एयरलाइंस के ATR-72 विमान ने काठमांडू से पोखरा के लिए उड़ान भरी थी. इस 72 सीटर विमान में 68 यात्री और चार क्रू मेंबर्स, यानी कुल 72 लोग सवार थे. विमान पोखरा के पास पहुंचा ही था कि क्रैश हो गया. नेपाली मीडिया के मुताबिक, ये दुर्घटना पोखरा के पुराने डोमेस्टिक एयरपोर्ट और पोखरा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के बीच हुई.

एजेंसी के मुताबिक, इस विमान में 53 नेपाल, 5 भारत, 4 रूस, 2 साउथ कोरिया, 1 आयरलैंड, 1 अर्जेंटीना और एक फ्रांस का नागरिक सवार था. नेपाल के प्रधानमंत्री पुष्प कमल दहल प्रचंड और गृह मंत्री रवि लामिछाने इमरजेंसी मीटिंग के बाद सीधे काठमांडू के त्रिभुवन एयरपोर्ट पहुंचे, जहां उन्होंने कंट्रोल रूम से हालात का जायजा लिया.

नेपाल में रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

नेपाल की सेना, सशस्त्र पुलिस, नेपाल पुलिस के साथ ही स्थानीय नागरिक भी रेस्क्यू ऑपरेशन में जुटे हुए हैं. अब तक 40 से ज्यादा यात्रियों के शवों को निकाला जा चुका है. इस हादसे को लेकर नेपाल के पीएम पुष्प कमल दहल प्रचंड ने दुख जताया है. इसके अलावा भारत के नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिंया ने भी इस हादसे पर शोक व्यक्त किया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *