December 7, 2023

PM मोदी की चिंता का आश्वासन दिया ऑस्ट्रेलियाई PM ने मंदिरों पर हमला करने वाले हमारे कानून की ताकत देखेंगे’,

पीएम मोदी ने हाल ही में ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री एंथनी अल्बानी के सामने वहां के मंदिरों पर हमले का मुद्दा उठाया था. अब इस मामले को लेकर एंथोनी अल्बनीज ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि वह धार्मिक इमारतों पर हमले बर्दाश्त नहीं करेंगे और ऐसा करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

ऑस्ट्रेलिया में भारतीय धार्मिक स्थलों पर हुए हमलों को लेकर प्रधानमंत्री एंथनी अल्बनीज ने बड़ा बयान दिया है. अलबनीज ने कहा कि उन्होंने अपने भारतीय समकक्ष नरेंद्र मोदी को आश्वासन दिया है कि ऑस्ट्रेलिया धार्मिक स्थलों पर हमले बर्दाश्त नहीं करेगा। उन्होंने दो टूक कहा कि ऐसी गतिविधियों के लिए जिम्मेदार किसी भी व्यक्ति को ‘कानून की पूरी ताकत’ का सामना करना पड़ेगा। अल्बनीज का यह बयान ऐसे समय में आया है जब प्रधानमंत्री मोदी ने कुछ दिन पहले उनके सामने ऑस्ट्रेलिया में मंदिरों पर हमले का मुद्दा उठाया था.

हमलों को बर्दाश्त नहीं करेंगे

अल्बनीस ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया एक ऐसा देश है जो लोगों की आस्था का सम्मान करता है और धार्मिक इमारतों पर किसी भी तरह का हमला बर्दाश्त नहीं करेगा, चाहे वे हिंदू मंदिर हों, मस्जिद या चर्च। ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री ने यह भी बताया कि उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी को ऑस्ट्रेलिया, ब्रिटेन और अमेरिका (AUKUS) के बीच त्रिपक्षीय सुरक्षा व्यवस्था के बारे में जानकारी दी. सितंबर 2021 में हुए इस समझौते के तहत परमाणु ऊर्जा से चलने वाली पनडुब्बियों का एक बेड़ा बनाया जाएगा जो ऑस्ट्रेलिया के तटीय क्षेत्रों की सुरक्षा और निगरानी करेगा।

पीएम मोदी को दिया आश्वासन

अपनी तीन दिवसीय भारत यात्रा समाप्त करने से पहले, अल्बनीस ने ऑस्ट्रेलियाई पत्रकारों के एक समूह से कहा कि देश की सुरक्षा एजेंसियां यह सुनिश्चित करेंगी कि धार्मिक इमारतों पर हमलों के लिए जिम्मेदार किसी भी व्यक्ति को कानूनी कार्रवाई का सामना करना पड़ेगा। उन्होंने कहा, ‘मैंने उन्हें (पीएम मोदी को) भरोसा दिलाया है कि ऑस्ट्रेलिया एक ऐसा देश है जो लोगों की आस्था का सम्मान करता है. हम इस तरह के चरमपंथी कृत्यों और धार्मिक इमारतों पर हमलों को बर्दाश्त नहीं करते हैं, चाहे वह हिंदू मंदिर हों या मस्जिद या चर्च। ऑस्ट्रेलिया में इस प्रकार की हरकतों के लिए कोई जगह नहीं है और हम यह सुनिश्चित करने के लिए अपनी पुलिस और अपनी सुरक्षा एजेंसियों के माध्यम से हर संभव प्रयास करेंगे। इसके लिए जिम्मेदार लोगों को बख्शा नहीं जाएगा। हम एक सहिष्णु बहुसांस्कृतिक राष्ट्र हैं।

पीएम मोदी ने उठाया मुद्दा

अल्बानिया से बातचीत के दौरान पीएम मोदी ने ऑस्ट्रेलिया में मंदिरों पर हमले की खबर को ‘अफसोसजनक बात’ बताया था. पीएम मोदी ने कहा, ‘भारतीय समुदाय ऑस्ट्रेलिया के समाज और अर्थव्यवस्था में अहम योगदान दे रहा है. यह खेद का विषय है कि पिछले कुछ हफ्तों के दौरान ऑस्ट्रेलिया में नियमित रूप से मंदिरों पर हमले की खबरें आ रही हैं।

दो महीने में चार बार हिंदू मंदिर को बनाया निशाना

दरअसल, ऑस्ट्रेलिया में पिछले दो महीनों के दौरान चार बार हिंदू मंदिरों में तोड़फोड़ की गई है। इस महीने की शुरुआत में, खालिस्तानी समर्थकों ने ब्रिस्बेन में एक प्रमुख हिंदू मंदिर को निशाना बनाते हुए तोड़फोड़ की थी। इससे पहले 23 जनवरी को मेलबर्न के अल्बर्ट पार्क में स्थित प्रतिष्ठित इस्कॉन मंदिर की दीवारों पर भारत विरोधी नारे लिखे गए थे और वहां बनी मूर्तियों को तोड़ दिया गया था. दूसरी ओर, 16 जनवरी को विक्टोरिया के कैरम डाउन्स स्थित ऐतिहासिक श्री शिव विष्णु मंदिर में भी इसी तरह की तोड़फोड़ की गई थी। ऐसी ही एक घटना मेलबर्न में 12 जनवरी को हुई थी जहां असामाजिक तत्वों द्वारा स्वामीनारायण मंदिर में भारत विरोधी नारे लगाए गए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *