April 15, 2024

Weight Loss: वजन कम करने के लिए कार्ब्स का सेवन बिल्कुल न करें? जानिए ये जरूरी बातें

वजन कम करने की चाहत रखने वाले ज्यादातर लोगों को लगता है कि डाइट से कार्ब्स को पूरी तरह से काटकर वजन तेजी से कम किया जा सकता है।

अगर आप भी ऐसा कुछ सोचते हैं तो हम आपको बता दें कि ऐसा करना आपके लिए काफी हानिकारक साबित हो सकता है और आपको स्वास्थ्य से जुड़ी कई समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

वजन कम करने की चाहत रखने वाले लोग कार्बोहाइड्रेट को अपना दुश्मन मानते हैं। कई लोग ऐसे होते हैं जो अपने वजन घटाने के सफर के दौरान लो-कार्ब डाइट लेना शुरू कर देते हैं या कई ऐसे भी होते हैं जो इस दौरान कार्ब्स का सेवन बिल्कुल ही नहीं करते हैं। अगर आप भी कुछ ऐसा ही करते हैं तो आपको बता दें कि यह आपकी सेहत के लिए बिल्कुल भी अच्छा नहीं है। हमारे शरीर को सभी चीजों की सीमित मात्रा में जरूरत होती है और जब ये चीजें हमारे शरीर को उपलब्ध नहीं होती हैं तो उसे कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। तो आइए जानते हैं कि वजन कम करते समय आपको अपनी डाइट से कार्ब्स क्यों नहीं काटने चाहिए।

इन कारणों से डाइट में कार्ब्स जरूर शामिल करें
एनर्जी मिलती है- कार्ब्स हमारे शरीर के लिए एनर्जी का मुख्य स्रोत माने जाते हैं। जब आप कार्ब्स का सेवन करते हैं तो शरीर उन्हें ग्लूकोज में तोड़ता है और फिर इसका इस्तेमाल शरीर के सभी अंगों को ऊर्जा प्रदान करने के लिए किया जाता है। जब आप अपनी डाइट से कार्ब्स को पूरी तरह से काट देते हैं तो आपको काफी थकान का सामना करना पड़ता है, जिससे कोई भी फिजिकल एक्टिविटी करना और एक्टिव रहना काफी मुश्किल हो जाता है। साथ ही आपको ध्यान केंद्रित करने में भी काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।

एथलेटिक्स प्रदर्शन ठीक रहता है- अगर आप नियमित रूप से व्यायाम करते हैं, तो अपने एथलेटिक प्रदर्शन को बेहतर बनाने के लिए कार्ब्स का सेवन करना बहुत जरूरी है। वर्कआउट के दौरान कार्ब्स का सेवन करने से आपको एनर्जी मिलती है। कार्ब्स के बिना, आपको कसरत करना और अधिक कठिन लग सकता है और ठीक होने में अधिक समय लग सकता है।

भूख और क्रेविंग को संतुष्ट करता है- कार्ब्स का सेवन करने से आपका शरीर इंसुलिन रिलीज करता है, जो आपके शरीर में ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित करने में मदद करता है। कार्ब्स का सेवन करने से भूख और क्रेविंग से भी राहत मिलती है। जब आप अपनी डाइट से कार्ब्स को कम करते हैं तो इससे आपको बहुत भूख और क्रेविंग महसूस होती है, जिससे आप ज्यादा खा लेते हैं और आपका वजन बढ़ने लगता है।

मूड को नियंत्रित करता है- कार्ब्स का आपके मूड पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। जब आप कार्ब्स खाते हैं, तो आपका शरीर सेरोटोनिन रिलीज करता है, एक न्यूरोट्रांसमीटर जो आपके मूड को बेहतर कर सकता है और चिंता को कम कर सकता है। कार्ब्स के बिना, आप बेहद चिड़चिड़े और उदास महसूस करते हैं।

साबुत अनाज में पोषक तत्वों की कमी होती है – कई कार्ब युक्त खाद्य पदार्थ, जैसे फल, सब्जियां और साबुत अनाज, विटामिन और खनिजों से भरे होते हैं जिन्हें स्वास्थ्य के लिए आवश्यक माना जाता है। अगर आप अपनी डाइट से कार्ब्स को कम करते हैं तो आपके शरीर को कई आवश्यक पोषक तत्व नहीं मिल पाते हैं, जिससे आपको कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

लो-कार्ब डाइट के नुकसान

स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि लो कार्ब डाइट जिसे लंबे समय तक बनाए रखना बहुत मुश्किल होता है, खासकर जब आप कहीं यात्रा कर रहे हों। विशेषज्ञ यह भी कहते हैं कि लो कार्ब डाइट लेने पर शरीर में कई पोषक तत्वों की कमी हो जाती है, जिससे पाचन और शरीर से जुड़ी कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। ऐसे में जरूरी है कि आप कार्ब्स का सेवन सीमित मात्रा में ही करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *